Category: Transport

रेलवे अपने 31 साल पुराने डीजल इंजनों को बंद करेगा

नई दिल्ली।रेलवे अपने सभी जोन में 31 साल पुराने डीजsल इंजन बंद करेगा। विद्युत इंजन को बढ़ावा देने और प्रदूषण को कम करने के मकसद से यह कदम उठाया गया है। हाल ही में उत्तर रेलवे को रेलवे बोर्ड द्वारा

न्याय की आस में सेल्स टैक्स कर्मचारी ने तोड़ा दम, 30 साल बाद आया उसके हक में फैसला

रायपुर।अनियमितता और गड़बड़ी के आरोप में बर्खास्त किए गए सेल्स टैक्स कर्मचारी सीएस ठाकुर को आखिरकार 30 सालों बाद हाईकोर्ट से न्याय मिला। पर इसे देखने के लिए वो अब इस दुनिया में नही है। मिली जानकारी के मुताबिक कर्मचारी

सीआईए स्टाफ ने एजेंट लिए हिरासत में

संगरूर।रोपड़ के क्षेत्र में वाहनों के जाली दस्तावेज बनाकर बेचने का हाईप्रोफाइल मामले के तार संगरूर से जुड़े रहे हैं। सीआईए स्टाफ रोपड़ की टीम ने संगरूर जिला ट्रांसपोर्ट दफ्तर के साथ मौजूद ट्रांसपोर्ट एजेंटों के खोखों पर अचानक चेकिंग

वाहन के ड्राइवर और क्लीनर भी होंगे थर्ड पार्टी में शामिल

ट्रक आपरेटरों के साथ साथ बस और कैब चलाने वालों के लिए बड़ी परेशानी ये थी कि वे वाहन का बीमा अपने लिए नहीं बल्कि दूसरों के लिए करवाते थे। हर वाहन को थर्ड पार्टी बीमा कराना जरूरी होता है

समस्याओं का समाधान करो वरना धुलाई करने के लिए कह दूंगा

नागपुर।लाल फीताशाही पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने कुछ अधिकारियों को आज आगाह किया कि यदि चंद मुद्दों का समाधान नहीं किया गया तो वह लोगों से कहेंगे कि धुलाई करो। केंद्रीय मंत्री एमएसएमई

धीरे-धीरे लागू होंगे नए मोटर एक्ट के प्रावधान, लगेगा 3 से 6 महीने का वक्त

नई दिल्ली। संसद से पारित होने के बाद संशोधित मोटर वाहन एक्ट, 2019 को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल चुकी है। लेकिन इसके अमल में आने में अभी थोड़ा वक्त बाकी है। शुरू में केवल जुमार्ने के प्रावधान लागू होंगे। बाकी प्रावधानों

वाहन के ड्राइवर और क्लीनर भी होंगे थर्ड पार्टी में शामिल

ट्रक आपरेटरों के साथ साथ बस और कैब चलाने वालों के लिए बड़ी परेशानी ये थी कि वे वाहन का बीमा अपने लिए नहीं बल्कि दूसरों के लिए करवाते थे। हर वाहन को थर्ड पार्टी बीमा कराना जरूरी होता है

गाय बनाम रोड ट्रांसपोर्ट

2014 में मोदी सरकार आने के बाद आम जनता को कई अहम बदलाव किए जाने की उम्मीद थी। लेकिन जो एक बड़ा बदलाव हुआ, उसकी उम्मीद शायद सिर्फ गिने चुने लोगों को ही थी। ये बदलाव था गायों को देश